पूर्वोत्तर एशिया / NEAसंघर्ष / तनाव

चीन की धमकी के जवाब में ताइवान ने शुरू की विस्तृत भर्ती

रॉयटर्स

पीपल्स रिपब्लिक ऑफ़ चाइना (PRC) के बढ़ते सैन्य ख़तरे के बारे में चिंताओं के कारण भर्ती अवधि चार महीने से आगे बढ़ाए जाने के बाद जनवरी 2024 के अंत में नए रंगरूटों ने ताइवान में एक साल की अनिवार्य सैन्य सेवा शुरू कर दी।

ताइवान के राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन (Tsai Ing-wen) ने 2022 के अंत में विस्तार की घोषणा की।

चीन ने ताइवान पर अपना दावा जताने के लिए सैन्य, राजनयिक और आर्थिक दबाव बढ़ा दिया, जिसमें पिछले चार वर्षों में स्व-शासित द्वीप के पास लगभग हर रोज़ पीपल्स लिबरेशन आर्मी एयर फ़ोर्स अभ्यास भी शामिल है।

“सेना की संरचना को समायोजित करना और युद्ध शक्ति में सुधार करना हमारी साझा जिम्मेदारी है,” मध्य ताइवान के ताइचुंग में एक सैन्य भर्ती केंद्र के अधिकारी, लीन चिह-वेई (Lien Chih-wei) ने कहा, जहाँ युवाओं को भर्ती के लिए तैयार किया जाता है। “यह हमारे लिए अपनी सैन्य शक्ति को मज़बूत करने की नींव भी है।”

विस्तृत भर्ती कार्यक्रम के तहत प्रारंभिक समूह में लगभग 670 भर्तियों की उम्मीद थी।

“जटिल अंतरराष्ट्रीय माहौल के सामने, दुश्मन का विरोध करने की दृढ़ इच्छाशक्ति पैदा करना हमारी पहली प्राथमिकता है,” ताइवानी सेना ने कहा। “अनिवार्य सेवा को एक वर्ष तक बढ़ाने से न केवल तत्काल युद्ध प्रभावशीलता में वृद्धि होगी, बल्कि आरक्षित कर्मियों की गुणवत्ता में भी सुधार होगा, गतिशीलता की ऊर्जा मज़बूत होगी और राष्ट्रीय रक्षा की समग्र युद्ध प्रभावशीलता में बढ़ोतरी होगी।”

प्रशिक्षण में स्टिंगर एंटी-एयरक्राफ़्ट मिसाइलों और एंटी-टैंक मिसाइलों जैसे हथियार प्रणालियों का संचालन शामिल होगा। नए रंगरूट 18 वर्षीय यिन सीन-शिह (Yin Hsin-shih) ने कहा कि भर्ती बढ़ाने से ताइवान को “इस बात के मद्दे नज़र आवश्यक रक्षा शक्ति मिलेगी कि हमारा पड़ोसी देश हमारे देश के लिए एक बहुत बड़ा ख़तरा है।”

संबंधित आलेख

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button